Welcome to swyamupchar.in

Category Archives: Women Health


इन्सान को आजकल बहुत सी बीमारी होती हैं । उन्ही बीमारी में से एक अस्थमा आता हैं । यह बीमारी सांस से संबध रखता हैं इसे दमा भी कहते हैं । अस्थमा क्या होता है और कैसे होता हैं:- अस्थमा Read more…


पीलिया क्या हैं और कैसे होता हैं:- रक्त में बिलीरूबीन के बढ़ जाने से त्वचा, नाखून और आंखों का सफेद भाग पीला नजर आने लगता है, इस स्थिति को पीलिया या जॉन्डिस कहते हैं या अगर शरीर पीला पड़ रहा Read more…


मौसम के चलते कभी कभी इंसान बीमार पर जाता है । उन्ही मौसम मैं से एक गर्मी आता  हैं।  गर्मी  के मौसम में लू लगना आम बात हैं। लू क्या है और कैसे होता है:- भारत में गर्मियों का मौसम आते Read more…


आजकल एक बीमारी बहुत चली हैं, जिसका नाम डेंगू (Dengue )हैं । यह बहुत ही खतरनाक रोग हैं ।   डेंगू क्या है और कैसे होता है   डेंगू भी एक तरह का वायरल बुखार है। जो की महामारी के Read more…


दोस्तों आज हम आपके लिए जो जानकारी लाये है, वो आंवला (aanvla)  मतलब इंग्लिश में Indian gooseberry, आंवला प्रकुति का एक अदभुत वरदान है | आंवला हमको एक औषधी के रूप मैं प्राप्त हुआ है | आंवला का पेड़ भारत मैं Read more…


स्वस्थ रहने के लिए यह जरूरी होता है कि आप पर्याप्त मात्रा में भोजन ले । भोजन से हमें ऊर्जा(Energy) और कैलोरी मिलता हैं । इसी ऊर्जा और कैलोरी में एक “ड्राई फ्रूट्स” आता हैं ।    (Dry Fruits) क्या Read more…


हर व्यक्ति चाहता है कि वो बिल्कुल स्वस्थ रहे चाहे महिला हो या पुरुष । पर कभी न कभी वो बीमार जरूर पड़ता हैं । यही सब बीमारी में एक बुखार(Fever) आता हैं । बुखार से हर व्यक्ति अपनी लाइफ Read more…


योग शब्द संस्कृत की ‘युज’ धातु से बना है जिसका अर्थ है जोड़ना यानि शरीर,मन और आत्मा को एक सूत्र में जोड़ना | योग सही तरह से जीने का भारत की एक प्राचीन भारतीय संस्कृति का गोरवमयी हिस्सा है| योग करना Read more…


हर व्यक्ति अपनी त्वचा को सुंदर बनाए रखना चाहता है। चाहे महिला हो या पुरुष हर कोई आजकल अपने त्वचा को सुंदर और खूबसूरत रखना चाहता है। त्वचा शरीर का सबसे बड़ा और जरूरी तत्व हैं क्योंकि त्वचा शरीर की Read more…


हमारे शरीर से कहीं अधिक जटिल हमारा मन है। शायद यही कारण है कि हम मन को समझने में अकसर भूल करते हैं। मानसिक रोग को अंग्रेजी भाषा में मेंटल दिसोडर भी कहते है | इस बीमारी में मनुष्य की Read more…