आंखों में दर्द के कारण और इलाज इन हिंदी: Burning Eyes Solution in Hindi

प्रदूषित वातावरण, धूल-मिट्टी, पूरे दिन टीवी, मोबाइल और कंप्यूटर के सामने बैठे रहना ये कुछ ऐसी चीजें हैं जो हमारी आंखों को नुकसान पहुंचाती हैं। जिसके कारण आंखों में जलन, चुभन, आंखों में कुछ पड़ जाने जैसी अनुभूति, दर्द, फड़कन, या अचानक उठनेवाला तेज दर्द आदि। आंखों में दर्द के लक्षण सिरदर्द एवं साइनस के लक्षणों से मिलते हैं, इसलिए आपके लिए इनके बीच अंतर करना कठिन हो सकता है।

आँखों में जलन और दर्द होने का कारण

  • आँखों में इंफेक्शन होना।
  • बिलनी (आँख में फुंसी) होना।
  • लगातार काम करना और आँखों को आराम ना देना।
  • ग्लूकोमा (काला मोतियाबिंद) रोग होने पर आँख दर्द की शिकायत होती है।

ये जीवन की गुणवत्ता में कमी कर देते हैं। अगर आप देर रात तक जागते हैं, और घंटों तक लगातार काम करते हैं, तो समस्या और बद्तर हो सकती है। नींद पोषक तत्वों की मदद से आंखों को फिर से तरो-ताजा कर देती है। नींद में कमी होने से आंखों संबंधी तकलीफें बार-बार होने लग जाती हैं।

आँखों में जलन और दर्द से कैसे पाएं छुटकारा

  • सुबह-सुबह नंगे पांव ओस पड़ी हरी घास पर चलने से आंखों की रोशनी तेज होती है।
  • सबसे पहले ध्यान के आसन में बैठ जाएं। फिर 6 से 7 मीटर दूर रखी किसी चीज को एक टक देखते रहें। इस तरह से ध्यान लगाने से चुभती हुई आंखों को आराम मिलता है।
  • यह तरीका बहुत ही पुराना है। दोनों हाथेलियों को आपस में 10 से 15 मिनट रगड़े और उसके बाद हल्के से दोनों हाथों को आखों के ऊपर रखें। इससे आंखों को तुरंत आराम मिलेगा।
  • अगर कंप्यूटर, लेपटॉप या मोबाइल के सामने हों तो हर 3 से 4 सेकेंड बाद पलकों को झपकाते रहिए। ऐसा करने से आंखों की कसरत होगी जिससे आराम मिलेगा।
  • दस बार आंखों को ऊपर-नीचे, दस बार आंखों को दाएं-बाएं तथा दस बार वृत्ताकार घुमाने से आंखों की अच्छी मालिश होती है और इससे आंखों पर पड़ने वाला तनाव भी कम होता है।
  • आंखों की जलन को दूर करने के लिए विटामिन ‘ए’ का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। इसलिए गाजर, आम, पपीता, आजवाइन, रसदार फल, दूध और मक्खन का प्रयोग करना चाहिए।
  • आंखों को आराम देने के लिए सात से आठ घंटा नींद लीजिए।
  • खीरे का रस या गुलाब जल को रुई में भिगोकर आंख पर रखें। आंखों को आराम मिलेगा। यही नहीं, आंखों में जलन हो तो बर्फ का टुकड़ा आंख पर रखिए।
  • प्राणायाम करने से दिमाग स्थिर रहता है और आंखों की रोशनी बनी रहती है। आप आखों की जलन को दूर करने के लिए योग में शवासन और सर्वागासन भी कर सकते हैं।
  • आंखों में जलन हो तो आप बार-बार आँखों को खोलें और बंद करे या फिर पानी के छींटें मारे।
  • आंखों में सूजन और जलन की समस्या को दूर करना है तो आलू को कद्दूकस करके अपने आंख पर लगाएं। इसे आप तीन दिन तक रात को कुछ मिनट के लिए करें। फिर देखिएगा इसका फायदा।
  • चाय (टी) में बियोफ्लेवोनोइड्स होता है जो वायरल और बैक्टीरियल संक्रमणों से लड़ता है और आंख के सूजन को कम करता है। इसके लिए काली टी बैग को कुछ मिनटो के लिए अपनी आंख पर रखें और इसे दिन में कई बार करें।
  • आंख के जलन को दूर करने के लिए आप ठंडी चम्मच को अपनी आंख पर लगाएं। इसके लिए आप पहले बर्फ का पानी एक गिलास लें और उसमें एक चम्मच डालें। फिर ठंडी होने के बाद उस चम्मच को निकालकर उसे आपनी आंखों पर लगाएं।

नोट: आपके शरीर के अंगों में आंखें बहुत ही नाजूक और अनमोल होती हैं इसलिए इसकी देखभाल भी बहुत सावधानी से करनी चाहिए।

इस लेख में आपने जाना आँख का दर्द और जलन कैसे दूर करे। दोस्तों आँखों में दर्द का इलाज, gharelu,desi free tips for eye pain & Burning in hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें बताये और अपने मित्रों के साथ भी शेयर करे

2 thoughts on “आंखों में दर्द के कारण और इलाज इन हिंदी: Burning Eyes Solution in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *