Aloe vera benefits and side effects in hindi
Beauty Child Care Fitness Health Hindi Men's Health Tips Tips Women Health

एलोवेरा के फायदे और नुकसान – (Aloe vera benefits and side effects in hindi).

Aloe vera benefits and side effects in hindi

एलोवेरा एक रसीला पौधे है और इसके पत्तों में पानी का भंडार है, जो मोटी और मांसल हैं। इसकी पत्तियां दो पदार्थ उत्पन्न करती हैं जेल, जो कि कई अन्य पोषक तत्वों में मिश्रित होती है, और रस, जिसे एलो लेटेक्स भी कहा जाता है। एलोवेरा यानि घृतकुमारी एक चमत्कारी औषधि है। एलोवेरा के पत्तों के जैल में विटामिन ए, बी1, बी2, बी3, बी6, बी12, सी, ई और फोलिक एसिड आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं। एलोवेरा के रस में पाए जाने वाले खनिज – तांबा, लौह, सोडियम, कैल्शियम, जिंक, पोटेशियम, क्रोमियम, मैग्नीशियम और मैंगनीज के अनेक स्वास्थ्य लाभ हैं। एलोवेरा ना केवल सामान्य बिमारियों को जड़ से मिटा देता है बल्कि घातक बीमारियों का भी जम कर सामना करता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ एलोवेरा को प्रकृति की सबसे प्रभावशाली और बहुमुखी जड़ी बूटी मानते हैं।

एलोवेरा के उपयोग – (Used Of  Aloe Vera).

एलोवेरा का किसी न किसी रूप में इस्तेमाल करने से आपकी स्किन, बाल और पूरी हेल्थ के लिए बेहद फायदेमंद रहता है। आप एलोवेरा चेहरे पर भी कई तरीकों से इस्तेमाल कर सकते हैं। लिमिटेड मात्रा में एलोवेरा का जूस आपकी हेल्थ के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। दिन की शुरुआत एलोवेरा जेल ड्रिंक के साथ करें। अगर आपके पास एलोवेरा का पौधा है तो आप ऑर्गेनिक एलोवेरा जेल भी बना सकती हैं। और जिन लोगों की नजर में यह मुश्किल काम है वे बाजार से एलोवेरा जेल आसानी से खरीद सकते हैं।

  • मधुमेह से लड़ने में – यदि आप डायबिटीज की समस्यां से परेशान हैं तो 10 ग्राम एलोवेरा के रस में 10 ग्राम करेले का रस मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करने से डायबिटीज से मुक्ति मिल जाएगी। साथ ही 20 ग्राम आंवले के रस में 10 ग्राम एलोवेरा के गूदे को मिलाकर प्रतिदिन सुबह सेवन करें। यह शूगर की बीमारी को दूर करेगा।
  • कैंसर से लड़ने में – एलोवेरा कैंसर जैसे खतरनाक रोगों से लड़ने की क्षमता रखता है।
  • बालों का विकास– अगर आपके बाल जड़ से खत्म हो रहे हैं, तो इसका रस नियमित सिर पर लगाते रहने से नए बाल आने लगते है।
  • जलने या चोट में फायदेमंद – एलोवेरा अपने एंटी बैक्टेरिया और एंटी फंगल गुण के कारण घाव को जल्दी भरता है। चोट लगने या जलने पर इसका जेल निकाल कर लगाने से आराम मिलता है। जलने के तुरन्‍त बाद इसके जेल को लगा लेने से छाले नहीं पड़ते और साथ ही जलन भी समाप्‍त हो जाती है।
  • एलोवेरा जैल के फायदे त्वचा के लिए – त्वचा के लिए एलोवेरा के फायदों को देखते हुए इसका व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाता है। यह त्वचा को हाइड्रेट एवं पोषित करता है और नई कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ावा देता है। चेहरे पर एलोवेरा जैल लगाने से चेहरा खिल उठता है। इसके अलावा एलोवेरा धूप की कालिमा, जले हुए निशान, इन्फेक्शन, ऐलर्जी आदि त्वचा सम्बंधित विकारों को ठीक करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।
  • स्किन में ऐसे इस्तेमाल करें एलोवेरा – ये गाढ़ा जेल स्किन के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। यह ड्राई और फ्लेकी त्वचा को हाइड्रेट और मॉइश्चराइज रखती है। अगर आपकी त्वचा डल और थकी हुई लग रही है तो आप एलोवेरा जेल के फेस पैक की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं, आप अपने घर के फेसपैक्स में एलोवेरा जेल डालकर इन्हें ज्यादा इफेक्टिव बना सकते हैं।
  • वजन नियंत्रण में सहायक – अगर आप का वजन बढ़ रहा है और इसके कारण आप हमेशा आलस और थकान का अनुभव भी कर रहे हैं तो एलोवेरा जूस का सेवन करें। एलोवेरा जूस को नियमित रूप से पीने से आप भरपूर तंदुरुस्ती का अहसास करते है। इससे एनर्जी लेवल भी बढ़ता है और वजन नियंत्रित रहता है।
  • स्वस्थ और स्वच्छ दांत – एलोवेरा, मुंह और मसूड़ों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके इस्‍तेमाल से मसूड़ों की तकलीफ और ब्‍लड आना बंद होता है। साथ ही मुंह में अल्‍सर की बीमारी भी ठीक होती है। इसे आप अपने दांत के डॉक्टर के रूप में भी अपना सकते हैं।

एलोवेरा के नुकसान (Aloe Vera Side Effects in Hindi).

आज हम आपको “एलोवेरा के नुकसान” इस बारे में बताने जा रहे हैं| हमारी आज कि पोस्ट हैं एलोवेरा के नुकसान (Side Effects Of Aloe Vera) , केवल 5 % लोग एलोवेरा के नुकसान क्या हैं इसके बारे में जानते हैं, बाकि के 95 % लोगो को केवल एलोवेरा के फायदों के बारे में पता हैं| वास्तव में एलोवेरा हमारे शरीर और हमारी त्वचा के लिए फायदेमंद ही हैं| एलोवेरा द्वारा त्वचा से जुड़े अनेक रोग दूर होते हैं| जिसके कारण एलोवेरा का इस्तेमाल अनेक प्रकार के सौंदर्य उत्पादों में किया जाता हैं|

ये अनजान तरीके पहुंचा सकते हैं आपकी आंखों और अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍यायें में नुकसान

  • आंखों की समस्‍यायें – बढ़ती उम्र के साथ आंखों की समस्‍यायें भी बढ़ने लगती हैं। आंखों की रोशनी कम होना सबसे सामान्‍य समस्‍या है। दरअसल आखों से जुड़ी ये स्थितियां कोई सामान्‍य समस्‍या नहीं है, इससे आपको चोट लग सकती है, कुछ मामलों में तो ये जानलेवा भी हो सकती हैं। अगर आपको डायबिटीज, हाइपरटेंशन, या आंखों से संबंधित कोई बीमारी हो तो खतरा बढ़ जाता है। आंखों की कुछ ऐसी समस्‍यायें हैं जिनको नजरअंदाज बिलकुल नहीं करना चाहिए।
  • आंखों की रोशनी – उम्र बढ़ने के साथ आंखों की रोशनी कम पड़ने लगती है, आंखों की रोशनी कम होने के कारण मौत भी हो सकती है। अगर आपकी देखने की क्षमता कम हो गई तो इससे आपकी दिनचर्या प्रभावित होती है। आप आसानी से घरेलू काम नहीं कर पाते हैं, रात को बाहर नहीं निकल पाते, खरीदारी में समस्‍या होती है। जेएएमए ऑप्‍थाल्‍मोलॉजी में छपी एक रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई कि आंखों की रोशनी कम होना जानलेवा हो सकता है।
  • दस्त लगना (Diarrhea) – एंथ्राक्विनोन और लैक्सेटिव तत्व मौजूद होने के कारण अधिक मात्रा में एलोवेरा के सेवन से दस्त होने लगते हैं| जिन लोगो को गैस और इरेटेबल बोवेल सिंड्रोम की समस्या हैं, वो लोग गलती से ही एलोवेरा का सेवन ना करे| ऐसे लोगो के लिए एलोवेरा का सेवन बहुत हानिकारक हैं|
  • गर्भपात होना (Miscarriage) – एलोवेरा के नुकसान की बात करे तो, इसके अधिक मात्रा में सेवन से गर्भपात भी हो सकता हैं| जो औरते माँ बनने वाली हैं, वो एलोवेरा का सेवन कतई ना करे| एलोवेरा के सेवन से या तो उसका गर्भपात हो जायेगा या फिर बच्चे के जन्म में कोई जन्म दोष पैदा हो जायेगा| 12 साल से कम उम्र के बच्चो को भी एलोवेरा जूस नहीं देना चाहिए|
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.