Welcome to swyamupchar.in

हल्दी दूध | Turmeric Milk पीने के फायदे और नुकसान


हल्दी दूध पीने के फायदे और नुकसान

दोस्तों आज हम आपको जो जानकारी दे रहे  है, वो हल्दी दूध के बारे में है. । हल्दी में प्राकृतिक एंटीबायोटिक गुण होते हैं और दूध कैल्शियम का समृद्ध स्रोत होता है।

हल्दी दूध पीने के फायदे और नुकसान
हल्दी दूध पीने के फायदे और नुकसान

हल्दी दूध, जिसे कभी-कभी सुनहरे दूध के रूप में भी जाना जाता है, दूध में शुष्क हल्दी पाउडर या ताजा हल्दी जड़ (राइज़ोम) का आधान होता है। यह परंपरागत रूप से विशिष्ट बीमारियों के इलाज के साथ-साथ सामान्य स्वास्थ्य के लिए टॉनिक के लिए भारतीय परिवारों में भी प्रयोग किया जाता है। आपके दैनिक आहार में इन दो प्राकृतिक अवयवों को शामिल करने से बीमारियों और संक्रमणों को रोका जा सकता है। सबसे मुख्य इसमें एंटीऑक्सीडेंट व् प्रतिरोधक क्षमता पाया जाता है । जो की हमारे शरीर के लिए बहुत ही फैयदेमद होते हैं ।

हल्दी दूध बनाने की विधि:-

  • गर्म दूध में सबसे पहले हल्दी डालो और उसको चम्मच से मिला लो तैयार हो जायेगा हल्दी दूध । कितने लोग इसमें चीनी भी मिलाते हैं टेस्ट के लिए ।

हल्दी दूध पीने के फायदे:-

 

  • साँस सम्बधी समस्या:-

हल्दी के साथ दूध को एंटीवायरल और जीवाणुरोधी गुणों के कारण ठंड और खांसी के लिए सबसे अच्छा उपाय माना जाता है। यह एक गले में खराश, खांसी और ठंड के लिए तत्काल राहत देता है।  क्योंकि यह मसाला आपके शरीर में गरमाहट लाता है और फेफड़े तथा साइनस में जकड़न से तुरन्त राहत मिलती है। यह अस्थमा और ब्रान्काइटिस के निदान का प्रभावशाली उपचार भी है।

  • हड्डी को स्वास्थ्य रखता हैं:-

हल्दी दूध कैल्शियम का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए आवश्यक है। हल्दी दूध हड्डी के नुकसान और ऑस्टियोपोरोसिस को कम करता है

  • कैंसर:-

हल्दी दूध स्तन, त्वचा, फेफड़े, प्रोस्टेट और कोलन कैंसर के विकास को रोकता है क्योंकि इसमें एंटी-भड़काऊ गुण होते हैं। यह कैंसर कोशिकाओं को डीएनए को नुकसान पहुंचाने से रोकता है और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभाव को कम करता है।

  •  वजन कम करना:-

हल्दी दूध  में यौगिक आपके शरीर को वसा तोड़ने में मदद करते हैं, जिससे आप वजन कम करने में मदद मिलती हैं । वजन कम करना हल्दी वाले दूध से पोषण के वसाओं को नष्ट करने में सहायता मिलती है।

  • सूथ गठिया और संयुक्त दर्द :-

हल्दी दूध के विरोधी भड़काऊ गुणों के साथ-साथ अन्य लाभ भी होते हैं, जिनमें से एक प्रमुख गठिया से जुड़ी दर्द, सूजन और सूजन को शांत करने की क्षमता है। यह पेय आपकी हड्डियों और जोड़ों को मजबूत करता है और लचीलापन भी सुधारता है।

  • आपकी त्वचा में चमक बनाता है:-

हल्दी दूध में एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों से लड़ते हैं जो न केवल बीमारी बल्कि उम्र बढ़ने का कारण बनते हैं, जिससे आपकी त्वचा युवा और स्वस्थ होती है।

  • नींद न आना:-

दूध में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन होते हैं, जो मस्तिष्क के रसायन होते हैं जो आपके नींद चक्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हल्दी वाला गर्म दूध ट्रिप्टोफैन नामक अमीनोअम्ल बनाता है जो शान्तिपूर्वक और गहरी नींद में सहायक होता है। हल्दी तनाव कम कर देता है और आपके शरीर को आराम देता है।

Related-:

:>Aadhi raat ko neend khulne ki vajah or samadhan

:>नींद में कमी होने से आंखों संबंधी पांच बीमारियां

:>Bure or drawne sapne aane ki vajah or samadhan

 

  • सिरदर्द से राहत मिलती है:-

गर्म हल्दी दूध एंटीऑक्सिडेंट्स के साथ-साथ कई पोषक तत्वों में समृद्ध है, इसलिए यह सिर दर्द के खिलाफ प्राकृतिक दर्दनाशक की तरह काम करता है।,

  • रक्त शुद्ध करता है:-

इस शक्तिशाली मसाले को सदियों से आयुर्वेदिक दवाओं में रक्त शोधक के रूप में उपयोग किया गया है। यह रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और लिम्फैटिक प्रणाली को उत्तेजित करता है,। जो शरीर की प्राकृतिक जल निकासी तंत्र है। यह आपके यकृत को आपके शरीर के बाकी हिस्सों को दूर करने में भी मदद करता है।

हल्दी वाला दूध पीने के नुक्सान:-

  1. जिन लोगो को गैस का प्रॉब्लम हैं वो लोग हल्दी वाली दूध का सेवन न करे इससे कब्ज भी बनता हैं ।
  2. अगर आपकी सर्जरी हुई हैं तो हल्दी वाली दूध का सेवन न करे क्यूंकि हल्दी दूध खून को पतला बनाता हैं ।
  3. हल्दी में एक रासायनिक पदार्थ करक्यूमिन पाया जाता है। जो ब्लड शुगर को प्रभवित करता है । ऐसे में अगर आपको मधुमेह है तो हल्दी वाला दूध पीने से परहेज करना ही बेहतर होगा ।
  4. हल्दी का बहुत अधिक सेवन करने से आयरन का अवशोषण बढ़ जाता है । जिन लोगों में पहले से ही आयरन की कमी है उन्हें बहुत सोच-समझकर हल्दी का सेवन करना चाहिए ।
  5. अगर आपको ब्लीडिंग प्रॉब्लम है तो हल्दी वाला दूध आपको नुकसान पहुंचा सकता है । ये ब्लड क्लॉटिंग की प्रक्रिया को कम कर देता है जिससे ब्लीडिंग की समया और अधिक बढ़ सकती है ।

Related:-

:>आंवला का मुरब्बा खाने के फायदे और नुकसान

Loading...

Have any Question or Comment?

Leave a Reply

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 613 other subscribers

%d bloggers like this: